किसी की याद में कविता | move on love poem

उसकी याद मे कविता, moving on in life poem
Spread the love

किसी की याद को भूल जाने में ही भलाई समझना हमें इस बात की याद दिलाता है की अब हम अपने past life से move on करने का फैसला कर चुके हैं। शायद ऐसा almost सबकी life मे होता होगा, और यह सही भी है, जहां आपको खुशी नहीं मिल रही और किसी की याद में आप कमजोर पड़ने लगें , वहाँ से आगे बढ़ जाना ही अच्छा होता है। अपने काम से प्यार कीजिये, आपको प्यार और खुशी भी अपने आप ही मिल जाएगी। तो इसी situation पर  किसी की  याद मे कविता move on love poem, pls comment below….!!

एक समय था जब किसी ने जीना सिखाया था,

आज समय है जब उसने सोना भुला दिया,

मैंने जिसे सीने से लगाया था कभी,

आज उसे कहीं दिल में दबा लिया।

सपनों की कहानी बुनते थे कभी साथ में,

जिंदगी ने हक़ीक़त से नज़र मिलाना सीखा दिया,

हर बात कहा करते थे एक दूसरे से,

अब दूरियों ने चुप रहना सीखा दिया।

अब कोई शिकवा नहीं न कोई शिकायत ही है,

चंद पलों को लिखा था मैंने उस खातिर,

पहले भी किसी ने दिल जलाया था,

मैंने दुबारा उन लम्हों को जला दिया।

 

“किसी की याद में | Move on Love Poetry in Hindi”

ek samay tha jab kisi ne jina sikhaya tha

aj samay hai jab usne sona bhula diya

maine jise sine se lagaya tha kabhi

aj use kahin dil mein daba liya.

sapano ki kahani bunte the kabhi sath mein

jindagi ne haqiqat se nazar milana sikha diya

har bat kaha karte the ek dusare se

ab dooriyon ne chup rahana sikha diya.

ab koi shikava nahin na koi shikayat hi hai

chand palon ko likha tha maine us khatir

pahale bhi kisi ne dil jalaya tha

maine dubara un lamhon ko jala diya.

Also Read:

बदनाम नहीं किया तुमको

Poem about dogs “my pet Duggu” in Hindi

तुम्हारा शुक्रिया बदनाम कविता 

तुझे अपने पास पाता हूँ

sad rain poem जब बारिश हो रही थी

शायरी

Quotes and Status

17+ motivational inspiring quotes and status

10+ broken heart quotes in Hindi

उलझन मे खुद को कैद न कर

आज समंदर भी तन्हा है

वक़्त ही मेरा रक़ीब बन गया

Who am I poetry in Hindi

 


Spread the love

Recommended Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *