“Shayad” poem in loving memory of someone in Hindi | “शायद” कविता और शायरी किसी की याद में

shayad poem in loving memory of someone special
Spread the love

किसी की याद तब खास बन जाती है जब हम उसे अपनी जिंदगी में एक अलग दर्जा देने लगते हैं, उसे अपने करीब महसूस करने लगते हैं। और न चाहते हुये भी उनकी पल-पल याद आती है की काश इस वक़्त वो हमारे साथ होते, ऐसी ही किसी की याद मे लिखी ये “शायद” कविता आपको भी किसी की याद दिला जाए। Shayad Poem in Hindi ऐसे ही खोये हुये आशिकों के लिए।

Sometime we feel remembrance of someone who don’t know that we are missing them a lot. We smile in the past memory and and miss the happy moments in present. This “Shayad” poem touches that soulful memories.

“शायद कविता”

कुछ दिन तेरा msg न आना

मेरी बेचैनी का राज़ है शायद

खाली सी लगती है तनहाई भी मेरी

तेरे आने की आस है शायद

इल्म नहीं तुझे इस बात का

के दिल में घर कर लिया है तूने

पर मैं कह भी नहीं सकता

गम है इस बात का शायद

तू अपनी ज़िंदगी मे खुश

मैं अपनी ज़िंदगी में उदास शायद

पर इंतेजर रहेगा हमेंशा तेरा

एक दिन मेरा भी हो खास शायद।

………………………………………………….

“Shayad poem”

Kuch din tera msg na aana
Meri bechaini ka raaz hai shayad
Khali si lagti hai tanhai bhi meri
Tere aane ki aas hai shayad

Ilm nahi tujhe is baat ka
Ke dil me ghar kar liya hai tune
Par main keh bhi nahi sakta
Gam hai is baat ka shayad

Tu apni zindagi me khush
Main apni zindagi me udas shayad
Par intejar rahega hamesha tera
Ek din mera bhi ho khas shayad

Also Read:

बदनाम नहीं किया तुमको

Poem about dogs “my pet Duggu” in Hindi

तुम्हारा शुक्रिया बदनाम कविता 

तुझे अपने पास पाता हूँ

sad rain poem जब बारिश हो रही थी

शायरी

Quotes and Status

17+ motivational inspiring quotes and status

10+ broken heart quotes in Hindi

उलझन मे खुद को कैद न कर

आज समंदर भी तन्हा है

वक़्त ही मेरा रक़ीब बन गया

Who am I poetry in Hindi


Spread the love

Recommended Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *