बदनाम नहीं किया तुमको Intense Love Poetry in Hindi

Spread the love

“प्यार में लोग अक्सर भूल जाते हैं की जिसे बदनाम कहा जा रहा, वो उन्होने बिना किसी डर के किया था, तो फिर बदनाम जैसा डर क्यों? जो आपसे प्यार करता है वो कभी भी आपका बुरा नहीं सोचता। कविता के माध्यम से सिर्फ वो अपने दिल की बात कहना चाहते क्योंकि अब उनके लफ़्ज़ खामोश हो चुके हैं।”

badnaam poetry hindi बदनाम कविता

“badnaam poetry for lovers”:

“बदनाम नहीं किया तुमको”

तुम मुझे गलत मत समझो

और न बात दिल पे लो

इतनी सी बात है

के ये मेरे बोल है

जो बेजुबान हो गयी है।

तुम्हारा शुक्रिया,

मेरे नए शख्स से रूबरू कराया

ये सिर्फ मेरे लफ़्ज़ नहीं

यादों की क्यारी है

जो गुलिस्तान हो गयी है।

बदनाम नहीं किया तुमको,

न कभी चाहूँगा,

ये कमबख्त मेरी दास्तां है

जो सरेआम हो गयी है।

In Hinglish:

“badanaam nahin kiya tumko”

tum mujhe galat mat samjho
aur na baat dil pe lo
itni si baat hai
ke ye mere bol hai
jo bezubaan ho gayee hai.

tumhara shukriya,
mere naye shakhs se rubaroo karaaya
ye sirf mere lafz nahin
yaadon ki kyaari hai
jo gulistaan ho gayee hai.

badanaam nahin kiya tumko,
na kabhi chaahunga,
ye kambakht meri daastaan hai
jo sareaam ho gayee hai.

Also Read:

तुझे अपने पास पाता हूँ

sad rain poem जब बारिश हो रही थी

शायरी

Quotes and Status

17+ motivational inspiring quotes and status

10+ broken heart quotes in Hindi

उलझन मे खुद को कैद न कर

आज समंदर भी तन्हा है

वक़्त ही मेरा रक़ीब बन गया

Who am I poetry in Hindi


Spread the love

Recommended Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *